अपनी website या blog के लिए domain name कैसे रजिस्टर कराएं

एक बार आपने अपनी website या blog बनाने का निश्चय कर लिया तो जो सबसे पहला काम आपको करना होता है वह है domain name रजिस्टर कराना। डोमेन ही आपका web address होता है जिसके सहारे कोई व्यक्ति आपकी साइट तक पहुँच सकता है। उदाहरणार्थ हमारा डोमेन या वेब एड्रेस gyanikaka.com है। हमारी साइट तक पहुँचने के लिए आपको अपने browser के address bar में www.gyanikaka.com या फिर सिर्फ gyanikaka.com टाइप करना होता है।

तो अपना domain name  रजिस्टर करने के लिए या दूसरे शब्दों में कहें किं  अपना web address हासिल करने के लिए आपको सबसे पहले किसी domain name registrar की site  पर जाना होगा। लेकिन उससे भी पहले आपको जो काम करना है वह है अपना domain name सोचने का काम। अपने blog  या website  का आप जो भी नाम रखना चाहते हैं उसे पहले से सोचकर रख लें। कई बार ऐसा भी होता है कि जो नाम आपने सोचा है वह उपलब्ध नहीं होता अर्थात उसे किसी और ने पहले से ही register  करा रखा होता है। इससे बचने के लिए आप पहले ही अपने मुख्य नाम के साथ ही उससे मिलते जुलते चार छह नाम और सोचकर रख लें। इसके लिए आप कई words  के combination भी use कर सकते हैं।

इसके अलावा जो दूसरी ध्यान देने वाली बात है वह है अपने domain  का extension  चुनाव करना। किसी भी डोमेन के अंत में आने वाले डॉट (.) के बाद का हिस्सा extension कहलाता है। जैसे कि .com, .org, .net, .in  आदि। यदि आप कोई commercial या कंपनी के लिए  साइट बनाने जा रहे हैं तो आप .com चुन सकते हैं या यदि आपकी साइट किसी संस्था से सम्बंधित है तो आप .org  चुन सकते हैं। यदि आप अपनी साइट के साथ अपने देश की पहचान जोड़ना चाहते हैं तो आप .in  का चुनाव कर सकते हैं, जो की हमारे देश भारत (India) से सम्बंधित है । हालांकि extension चुनने के लिए कोई बाध्यता नहीं होती है, ये पूरी तरह से आपकी पसंद का मामला है ( कुछ Government reserved  extensions को छोड़कर )। आप जो चाहें वह रख सकते हैं।

इनके अलावा भी आजकल बीसियों प्रकार के extension name उपलब्ध हैं जिन्हें आप अपनी पसंद के अनुसार choose कर सकते हैं।

इसके बाद आप किसी भी domain registrar जैसे godaddy.com या namecheap.com या फिर resellerclub.com की साइट पर जाएंगे जहां आपको एक domain search का ऑप्शन मिलेगा। यहां आप अपने सोचे गए सभी नामों को एक एक करके चेक कर सकते हैं कि कौनसा registration के लिए available है और कौनसा नहीं ।

यदि आपकी पसंद का नाम available तो फिर आपको रजिस्ट्रार की site पर दिए गए निर्देशों के अनुसार अपनी जानकारी भरकर अपना account बनाना होगा और चुने गए domain name की सालाना फीस देनी होगी जो आप ऑनलाइन पेमेंट माध्यमों से दे सकते हैं। फीस सफलतापूर्वक जमा होते ही आपका चुना गया domain आपके account में आ जाएगा जिसे आप अपनी website या blog बनाने के लिए उपयोग कर सकते हैं।

Domain Registration बहुत सरल प्रक्रिया है और सुगमतापूर्वक पूर्ण हो जाती है। इसके बाद अगला चरण होता है अपनी वेबसाइट की फाइलों को रखने के लिए (save करने के लिए ) webhosting लेना। यह भी बहुत सरल है जिसकी चर्चा हम अगले आलेख में करेंगे।

अपने प्रश्न और सुझाव कमेंट में देना न भूलें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *